Tuesday , May 21 2019
Breaking News

Jyotish

27 जुलाई 2018 गुरु पूर्णिमा पर चंद्र ग्रहण,जानें क्या करें,क्या न करें

गुरु पूर्णिमा पर रहेगा खग्रास चंद्रग्रहण, *दोपहर 2:54* से शुरू हो जाएगा सूतक, इसलिए बंद हो जाएंगे मंदिरों के पट, पहले ही गुरु पूजा करना होगा फलदायी. गुरु पूर्णिमा पर शिष्य गुरुओं की दोपहर तक ही पूजा कर सकेंगे। यह सब खग्रास चंद्रग्रहण पडऩे के कारण होगा। ग्रहण का सूतक काल दोपहर 2 बजकर 54 मिनट से शुरू हो जाएगा। ... Read More »

दिन के अनुसार जानें… “राहुकाल” का समय

दिनों पर आधारित राहुकाल का समय

भारतीय ज्योतिष में नवग्रह यानि नौ ग्रह गिने जाते हैं। ये हैं सूर्य, चंद्रमा, बुध, शुक्र, मंगल, गुरु, शनि, राहु और केतु। इनमें राहु, मूलतः राक्षस था जो समुद्र मंथन के समय अमृत पीकर अमर हो गया था। राहु, राक्षसी सांप का मुखिया है जो हिन्दू शास्त्रों के अनुसार सूर्य या चंद्रमा को निगलते हुए ग्रहण को उत्पन्न करता है। ... Read More »

क्या है राहुकाल और कैसे होती है इसकी गणना ?

राहुकाल क्या है

समुद्र मंथन के समय जब भगवान धन्वंतरि अमृत कलश लेकर प्रकट हुए तो देवों और दानवों में पहले अमृतपान करने को लेकर विवाद छिड़ गया। धन्वंतरि जी ने भगवान विष्णु का स्मरण कर देवों और दानवों के बीच हो रहे झगड़े को समाप्त करने की प्रार्थना की। दानव अमृत पी कर कहीं अमर न हो जाएं, यह सोचकर सृष्टि की ... Read More »

 अक्षय तृतीया पर अपनी राशि अनुसार करें दान व खरीदारी,जाने शुभ मुहूर्त

बरेली ।अक्षय तृतीया साल 2018 में 18 अप्रैल को मनाई जा रही है।वैसाख महीने के शुक्ल पक्ष की तृतीया को अक्षय तृतीया का पर्व मनाया जाता है। हिंदू धर्म में इस तिथि को बेहद शुभ माना जाता है।ऐसी मान्यता है कि इस दिन किए गए शुभ काम का कभी क्षय नहीं होता इसलिए इसे अक्षय तृतीया कहते हैं। दरअसल, शुक्ल ... Read More »

गुरु-पुष्य नक्षत्र का महायोग 9 नवम्बर को,ऐसा करने से होगी मन की हर इच्छा पूरी

गुरु-पुष्य नक्षत्र योग जिसे हम गुरुपुष्यामृत योग भी कहते है,यह महायोग इस साल 9 नवम्बर को बनने जा रहा है।  यह गुरु-पुष्य नक्षत्र 9 नवंबर की दोपहर 1:39 से लेकर अगले दिन सूर्योदय तक रहेगा। इसका ज्योतिष में बहुत महत्व है। इस ज्योतिषीय योग के दौरान देवगुरु बृहस्पति का पुष्य नक्षत्र में प्रवेश होता है। यह महायोग साल में एक ... Read More »

आज का पंचांग 17 अक्तूबर 2017

कलियुगाब्द…………….5119 विक्रम संवत्…………..2074 शक संवत्……………..1939 रवि………………..दक्षिणायन मास……………………कार्तिक पक्ष………………………कृष्ण तिथी………………….त्रयोदशी रात्रि 12.08 पर्यंत पश्चात चतुर्दशी तिथि स्वामी…………….काम नित्यदेवी…………..सर्वमंगला सूर्योदय……….06.24.32 पर सूर्यास्त……….06.00.09 पर नक्षत्र………….उत्तराफाल्गुनी दुसरे दिन प्रातः 06.38 पर्यंत पश्चात हस्त योग………………………ब्रह्मा संध्या 05.58 पर्यंत पश्चात इंद्र करण……………………..गरज दोप 12.15 पर्यंत पश्चात वणिज ऋतु………………………..शरद दिन…………………..मंगलवार 💰 धन त्रयोदशी पर्व :- धनतेरस दीपावली से दो दिन पहले मनाई जाती है | जिस प्रकार ... Read More »

चमत्कारी जड़ जो कंगाल को भी करती मालामाल

चमत्कारी जड़ जो अपनी चमत्कारिक शक्तियों के कारण प्राचीन काल से प्रसिद्ध है।जो एक पौधे की जड़ है इस जड़ को हत्था जोड़ी कहते हैं इस चमत्कारी जड़ में कंगाल को भी मालामाल बनाने की क्षमता है।माना जाता हैं कि हत्था जोड़ी उन  10 महाविद्याओं का एक अभिन्न अंग है जो मां काली और कामाख्या देवी की साधना में सम्‍मिलित है। ... Read More »

VAASTU : घर में है निगेटिविटी या हैं परेशान, करें ये उपाय-होगा समाधान

vasstu

जीवन में उतार-चढ़ाव लगा रहता है। जीवन है तो समस्याएं भी होंगी और उनके समाधान के लिए प्रयास भी करने होंगे। कई बार छोटे-छोटे उपाय भी बड़े काम के सिद्ध होते हैं। यदि आप ज्योतिष या वास्तु को मानते हैं तो यहां दिये गये छोटे-छोटे उपायों से अपनेे जीवन से परेशानियों को खत्म कर सकते हैं। इस उपायों को करके ... Read More »

वार्षिक भविष्यफल 2017 -मीन (Pisces)

मीन राशिफल

  मीन  राशिवालों को नव वर्ष 2017 की हार्दिक शुभकामनाएं | मीन राशिफल नया साल 2017 राशिफल सूर्य या चन्द्र राशि पर आधारित न होकर लग्न पर आधारित है। वर्ष 2017 का राशिफल मीन लग्न के जातकों के स्वास्थ्य , व्यापार , भाग्य और वैवाहिक जीवन से सम्बंधित है।मीन राशिफल 2017 बहुत ही सामान्य आधार पर है अतः किसी विशेष ... Read More »

वार्षिक भविष्यफल 2017 -कुम्भ(Aquarius)

Horoscope by Lagna Rashi

कुम्भ राशिवालों को नव वर्ष 2017 की हार्दिक शुभकामनाएं | कुम्भ राशिफल  नया साल 2017 राशिफल  सूर्य या चन्द्र राशि पर आधारित न होकर लग्न पर आधारित है।  वर्ष 2017 का राशिफल कुम्भ लग्न के जातकों के स्वास्थ्य , व्यापार , भाग्य और वैवाहिक जीवन से सम्बंधित है। कुम्भ राशिफल 2017 बहुत ही सामान्य आधार पर है अतः किसी विशेष ... Read More »